Wednesday, November 21, 2007

मिचिगन

में यूनिवर्सिटी ऑफ़ मिचिगन में पड़ रहा हूँ| यह मेरे चौथा और आकरी साल हैं| मेरी डिग्री हैं बचेलोर्स इन मकनिकल इंजीनियरिंग एंड मनुफ़क्त्रुइन्ग् स्य्स्तेम्स| अगर आपको लगता हैं की मेरी डिग्री काफी बोरिंग हैं तो हाँ में भी काफी ख्वार होता हूँ| मगर हमारा कालेग दुनिया के सबसे बड़े कालेजो में माना जाता हैं और हमारी पढाई काफी मुश्किल होती हैं| में मिचिगन २००४ को आया था और कुछ ही दिनों मैं पूरे कैम्पुस के बस स्य्स्तेम और रास्तों को अच्छी तरह जान गया| यहा हमारे कालेज में दुनिया की हर जगह से लोग पड़ने के लिए आते हैं| इसलिए आप दुसरे मुल्को के जाय्केदार खानों का यहा आसानी से मज़ा ले सकते हैं| मेरे यहा पर करीबन बीस से चालीस दोस्त बने हैं और में ज्यादातर उनमे से आठ या नौ लोगो के सात सबसे ज़्यादा वक्त बिताता हूँ| यहा पढाई सिर्फ़ जुम्मे की शाम तक होती हैं| जुम्मे की शाम से लेकर इतवार की रात तक ज्यादातर में अपने दोस्तो के घर या उनके सात बाहर जाता हूँ| एक इंजिनियर की जिंदिगी में ये मुश्किल हैं, इसलिए महीने में अजर दोस्तो के एक या दो दफा मुलाकात हो जाए तो काफी माना जाता हैं| अबा मेरी ये कोशिश हैं की यहा से ग्रादुअते होने के बाद में तीन या चार सालो के लिए काम करना चाहता हूँ और उसके बाद जहा जिंदगी लेकर जायेगी हम वह जायेंगे|

1 comment:

Anonymous said...

Hello. This post is likeable, and your blog is very interesting, congratulations :-). I will add in my blogroll =). If possible gives a last there on my blog, it is about the TV de LCD, I hope you enjoy. The address is http://tv-lcd.blogspot.com. A hug.